Saturday , May 21 2022
SaraSamay News
SaraSamay News

सड़क दुर्घटना में पीड़ित को दिया जाएगा अब 8 गुना तक ज्यादा मुआवजा, क्या है ये सरकारी एलान जाने आप

जागरूक रहिए नुकसान से बचिए
:::::::: सचिन चौरसिया :::::::

केंद्र सरकार ने हिट एंड रन मामले में पीड़ित की मौत होने पर उसके परिजनों को दिए जाने वाले मुआवजे की रकम को आठ गुना बढ़ाने का फैसला किया है। इसके साथ ही एक अप्रैल से हिट एंड रन में मारे गए लोगों के परिजनों को दो लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की एक अधिसूचना के मुताबिक, ऐसे मामलों में गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को दी जाने वाली मुआवजा राशि भी चार गुना बढ़ाया गया है। अब एक अप्रैल से मुआवजा राशि बढ़ाकर 50,000 रुपये मिलेगी।

मंत्रालय ने गत 25 फरवरी को जारी इस अधिसूचना में कहा कि योजना का नाम ‘हिट ऐंड रन मोटर दुर्घटना योजना के पीड़ितों को मुआवजा, 2022’ होगा और यह एक अप्रैल 2022 से प्रभावी होगी। मंत्रालय ने मसौदा योजना 2 अगस्त 2021 को अधिसूचित कर दिया था।

आधिकारिक बयान में कहा गया, ”हिट एंड रन दुर्घटना के पीड़ितों के लिए मुआवजा संबंधी इस योजना का उद्देश्य मुआवजा राशि बढ़ाना है। यह योजना क्षतिपूर्ति योजना, 1989 का स्थान लेगी।” गौरतलब है कि सरकार पहले हिट एंड रन दुर्घटना में मारे गए पीड़ितों के परिजनों को महज 25 हजार रुपये का मुआवजा देती थी, जबकि दुर्घटना का शिकार होने वालों को 12,500 रुपये ही मुआवजे के तौर पर मिलता था।

सरकार बनाएगी मोटर व्हीकल एक्सीडेंट फंड
सरकार मोटर व्हीकल एक्सीडेंट फंड (Motor Vehicle Accident Fund) बनाएगी, जिसका इस्तेमाल हिट एंड रन एक्सीडेंट के मामले में मुआवजा और दुर्घटना पीड़ितों के इलाज के लिए किया जाएगा. पिछले साल, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने राज्यसभा को बताया था कि 2019 में राष्ट्रीय राजधानी में ‘हिट एंड रन’ के रूप में वर्गीकृत दुर्घटनाओं में 536 लोग मारे गए थे और 1,655 लोग घायल हुए थे. ताजा सरकारी आंकड़ों के अनुसार, 2020 के दौरान भारत में कुल 3,66,138 सड़क दुर्घटनाएं हुईं, जिसमें 1,31,714 मौतें हुईं.

3 महीने के अंदर भुगतान
सड़क परिवहन मंत्रालय के नए नियम के मुताबिक, पीड़ित और उसके परिवार वालों को मुआवजे की राशि 3 महीने के अंदर उनके बैंक खातों में पहुंचा दी जाएगी. बता दें कि इससे पहले सरकार सुप्रीम कोर्ट को पहले ही भरोसा दिया था कि हिट एंड रन केस में पीड़ित के परिवार वालों को पहले से ज्यादा मुआवजा राशि दी जाएगी. मोटर वीकल एक्सीडेंट फंड फंड के अनुसार, पीड़ित परिवार को तत्काल मदद पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा जिससे मुआवजा देने में किसी भी तरह की कोई रुकावट न आए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

3 + eleven =